इस कदर बेबस कर दिया है तेरे इश्क़ ने ,

खुद के दिल का सुकून भी किसी और की ग़ज़लों में ढूंढता हूं मैं !

Like what you read? Give Aman Sharma a round of applause.

From a quick cheer to a standing ovation, clap to show how much you enjoyed this story.