14 February 2020 Current Affairs Free PDF Download | 14 फरवरी 2020 का करंट अफेयर्स

Click Here to download PDF

1. भारतीय रिजर्व बैंक (RBI) एक रुपये के नोट को छोड़कर सभी मूल्यवर्ग के करेंसी नोट छापता है। एक रुपये का नोट वित्त मंत्रालय द्वारा छापा जाता है और इस पर वित्त मंत्रालय के वित्त सचिव के हस्ताक्षर होते हैं। भारत सरकार के वित्त मंत्रालय ने फैसला किया है कि एक रुपये का नया नोट फिर से छापा जायेगा। केंद्रीय वित्त मंत्रालय ने एक रुपये के करेंसी नोटों को छापने के लिए नियमों की अधिसूचना, गज़ट अधिसूचना 7 फरवरी, 2020 को जारी कर दी है। इस सूचना में इस नोट के बारे में बहुत सी डिटेल्स बताई गयी है। एक रुपये के नए नोट के बारे में:-

· वैल्यू: ₹1

· चौड़ाई: 97 मिमी

· ऊँचाई: 65 मिमी

· वजन: 90 जीएसएम ग्राम

· पेपर टाइप: 100 फीसदी कॉटन

· रंग: एक रुपए के करेंसी नोट का पूरा रंग मुख्य रूप से गुलाबी हरे रंग का होगा

Ø इस नोट पर अतनु चक्रवर्ती, सचिव, वित्त मंत्रालय के हस्ताक्षर हिंदी और अंग्रेजी में होंगे। इसमें नंबरिंग पैनल में ‘सत्यमेव जयते’ और कैपिटल इनसेट लेटर ‘L’ के साथ जारी किए गए हैं। साथ ही नए रुपए के एक सिक्के की आकृति छपी होगी। इसमें ‘₹’प्रतीक में अनाज का डिजाइन होगा, जो देश के कृषि प्रभुत्व को दर्शाएगा और आसपास के डिजाइन में तेल खोज मंच ‘सागर सम्राट’ की तस्वीर होगी और भाषा पैनल में पंद्रह भारतीय भाषाओं में मूल्य प्रिंट होगा।

2. विश्व स्वास्थ्य संगठऩ ने कहा है कि नये कोरोना वायरस से हुई बीमारी का आधिकारिक नाम “कोविड-2019 (CORONA VIRUS DISEASE — CONVID-19)” है। WHO के प्रमुख “टेड्रोस अदनोम घेबियस” ने जिनेवा में इस नाम की घोषणा की। कोरोना वायरस शब्द उसके नवीनतम प्रारूप को बताने की बजाय केवल उस समूह का उल्लेख करता है, जिसका वह सदस्य है। नया नाम कोरोना वायरस और बीमारी से लिया गया है और साथ में 2019 उस वर्ष के लिए है जिसमें यह वायरस सामने आया था।

Click Here to download PDF

3. गुजरात के गांधीनगर में 15 से 22 फरवरी तक माइग्रेटरी स्पीसीज( प्रवासी प्रजातियों) पर कॉन्फ्रेंस ऑफ पार्टीज ऑफ कन्वेंशन(COP 13) होने जा रहा है। भारत पहली बार यूनाइटेड नेशन एनवायरोन्मेंट प्रोग्राम के द्वारा आयोजित किए जाने वाले इस कन्वेंशन की मेजबानी कर रहा है। इसके लिए रणदीप हुड्‌डा को ब्रांड एम्बेसडर बनाया गया है। भारत एशियाई हाथी और गोडावण (ग्रेट इंडियन बस्टर्ड) को विलुप्त होती प्रवासी प्रजातियों की वैश्विक संरक्षण सूची में शामिल करेगा। इस सूची पर संयुक्त राष्ट्र पर्यावरण कार्यक्रम (UNEP) के तहत पर्यावरण संधि (वन्य जीव) के प्रवासी प्रजातियों के संरक्षण पर आयोजित होने वाले 13 वें सम्मेलन में चर्चा की जाएगी। इसके अलावा इससे सात प्रजातियां जिनमें डुगोंग, व्हेल शार्क, समुद्री कछुआ (दो प्रजातियां) आदि के लिए संरक्षण और रिकवरी एक्शन प्लान तैयार करने के लिए चिन्हित किया गया है।

4. जलवायु परिवर्तन के प्रभाव पर अंतर्राष्ट्रीय सम्मेलन ClimFishCon 2020, 12 फरवरी को ‘hydrological cycle, ecosystem, fisheries and food security’ के विषय पर केरल में शुरू होगा। इस सम्मलेन में 12 देशों के 300 से अधिक प्रतिनिधि, जिनमें वैज्ञानिक, शोधकर्ता, प्रशासक, नीति निर्माता, शिक्षाविद और उद्यमी शामिल होंगे। इसके अलावा फिशर, एक्वा फार्मर्स, छात्र और अन्य हितधारक भी हिस्सा लेंगे। इस सम्मेलन का आयोजन CUSAT स्कूल ऑफ इंडस्ट्रियल फिशरीज एंड द डिपार्टमेंट ऑफ़ फिशरीज, केरल द्वारा संयुक्त रूप से किया गया है।

5. उत्तर प्रदेश कैबिनेट ने मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ की अध्यक्षता में भूमिगत जल अधिनियम, 2020 को मंज़ूरी दी। इस अधिनियम का उद्देश्य भूमिगत जल के स्तर में सुधार करना है। इस अधिनियम के तहत जलमग्न पंप (submersible pumps) का पंजीकरण अनिवार्य किया जाएगा। इन पंप के लिए उपयोग के लिए किसानों तथा घरेलु उपयोगकर्ताओं को फीस अदा करने की आवश्यकता नहीं होगी। इस अधिनियम के तहत सभी निजी स्कूलों व महाविद्यालयों में वर्षा जल संग्रहण (rain water harvesting) अनिवार्य किया जायेगा।

Click Here to download PDF

6. ट्राइबल कोऑपरेटिव मार्केटिंग डेवलपमेंट फेडरेशन ऑफ इंडिया (TRIFED) ने नई दिल्ली में जनजातीय मामलों के मंत्रालय के अंतर्गत ‘वन धन और उद्यमिता विकास’ पर कार्यशाला का आयोजन किया है। ‘वन धन और उद्यमिता विकास’ पर कार्यशाला का उद्घाटन केंद्रीय जनजातीय मंत्री अर्जुन मुंडा द्वारा किया गया ।

7. बाबूलाल मरांडी की झारखंड विकास मोर्चा (प्रजातांत्रिक) का विलय भाजपा में होने जा रहा है। पार्टी की केंद्रीय कार्यसमिति की बैठक में यह फैसला किया गया। पार्टी मुखिया बाबूलाल मरांडी ने इसे घर वापसी बताया। बाबूलाल मरांडी झारखंड के पहले मुख्यमंत्री थे। तब वे भाजपा में ही हुआ करते थे। लेकिन 2006 में उन्होंने अपनी अलग पार्टी बना ली।

8. भारत सरकार ने इम्प्लांट और गर्भ निरोधक (contraceptives) सहित सभी चिकित्सा उपकरणों को ड्रग्स की श्रेणी में रखने का निर्णय लिया है। पुन: वर्गीकरण के संबंध में अधिसूचना स्वास्थ्य और परिवार कल्याण मंत्रालय द्वारा जारी की गई । इसके कार्यान्वयन के साथ ही सभी चिकित्सा उपकरण अब केन्द्रीय औषध एवं मानक नियंत्रण संगठन (CDSCO) के अंतर्गत आएंगे। 1 अप्रैल 2020 से किए बदलावों को लागू किया जाएगा। पुन: वर्गीकरण से दवाओं के लिए जिम्मेदार संस्था “CDSCO” को सुरक्षा और गुणवत्ता में सुधार के लिए विनियमन को कड़े करने में सक्षम बनाएगा। स्वास्थ्य और परिवार कल्याण मंत्रालय द्वारा जारी अधिसूचना के अनुसार जिन चिकित्सा उपकरणों को फिर से वर्गीकृत किया जाएगा, उनमें वे उपकरण शामिल हैं जो किसी भी बीमारी या विकलांगता के लाइफ सपोर्ट, निदान, उपचार या निवारण के लिए उपयोग किए जाते हैं। इसमें वे भी उपकरण शामिल होंगे जिनका उपयोग अन्य चिकित्सा उपकरणों को कीटाणुरहित करने के लिए किया जाता है। इस अधिसूचना में बाजार में बिकने वाले लगभग सभी चिकित्सा उपकरणों कवर होंगे।

Click Here to download PDF

9. केंद्रीय अल्पसंख्यक कार्य मंत्रालय की ओर से राजधानी के राजपथ स्थित इंडिया गेट लॉन में 13 से 23 फरवरी तक आयोजित किये जा रहे हुनर हाट की थीम ‘कौशल को काम’ होगी। अल्पसंख्यक मंत्रालय की ओर से आयोजित 20वें हुनर हाट का उद्घाटन रेल मंत्री पीयूष गोयल , अल्पसंख्यक कार्य मंत्री मुख्तार अब्बास नकवी एवं शहरी विकास मंत्री हरदीप सिंह पुरी 13 फरवरी को करेंगे। जिसमें देश भर के हुनर के उस्ताद दस्तकार और शिल्पकार भाग लेंगे।

10. बृहन्मुंबई नगर निगम (बीएमसी) मुंबई, महाराष्ट्र में 90 स्थानों पर एक वायु गुणवत्ता निगरानी नेटवर्क पहुंच विकसित करेगा। यह भारत का सबसे बड़ा नेटवर्क होगा। नए प्रोजेक्ट का नेतृत्व गैर-सरकारी संगठन (NGO) कंजर्वेशन एक्शन ट्रस्ट (CAT) कर रहा है और इसमें pan-India air pollution research groups Respirer Living Sciences Private Limited (UrbanSciences) and Urban Emissions की भागीदारी है।

11. संगीत नाटक अकादमी (SNA) ने संस्कृति मंत्रालय के जोनल कल्चरल सेंटर्स के साथ मिलकर अमूर्त सांस्कृतिक विरासत (ICH) की राष्ट्रीय सूची के लिए ICH तत्वों की एक सूची तैयार की है। केंद्रीय संस्कृति और पर्यटन राज्य मंत्री श्री प्रहलाद सिंह पटेल ने यह जानकारी दी।

12. मंत्रिमंडल ने सार्वजनिक क्षेत्र की तीन बीमा कंपनियों मेंं ढ़ाई हजार करोड़ रुपये की पूंजी लगाने के प्रस्‍ताव को सैद्धांद्धित रूप से मंजूर कर लिया। ये कपंनियां हैं-ओरियण्‍टल इंश्‍योंरेंस कंपनी लिमिटेड, नेशनल इंश्‍योंरेंस कंपनी लिमिटेड और यूनाइटेड इंडिया इंश्‍योंरेंस कंपनी लिमिटेड। इन कंपनियों की वित्‍तीय स्थिति को देखते हुए यह फैसला किया गया है।

13. भाभा परमाणु अनुसन्धान केंद्र (BARC) ने ‘भाभा कवच’ नाम से एक नए बुलेटप्रूफ जैकेट का निर्माण किया है, इस जैकेट का उपयोग केन्द्रीय औद्योगिक सुरक्षा बल (CISF) द्वारा किया जाएगा। CISF को शुरुआत में पांच बुलेटप्रूफ जैकेट दिए गये। इस जैकेट का भार 6.8 किलोग्राम है। यह लेवल-3 प्लस श्रेणी का सबसे हल्का जैकेट है। इस जैकेट का निर्माण कार्बन नैनोट्यूब और हॉट-प्रेसड कार्बाइड टेक्नोलॉजी का उपयोग किया गया है।

Click Here to download PDF

14. हरियाणा के मानेसर में राष्ट्रीय सुरक्षा गार्ड (NSG) द्वारा ‘आतंकवाद की उभरती रूपरेखा तथा आईईडी के खतरे की समझ’ के विषय पर 20वां अंतर्राष्‍ट्रीय सेमिनार आयोजित किया जा रहा है। इस सेमिनार का उद्घाटन गृह राज्य मंत्री, जी किशन रेड्डी ने किया। इस सेमीनार में अनेक देशों के प्रतिनिधि, विभिन्‍न राज्‍यों के वरिष्‍ठ पुलिस अधिकारी तथा सुरक्षा अधिकारी एवं अन्‍य हितधारक हिस्‍सा ले रहे हैं। दो दिनों तक चलने वाले इस समारोह में सामूहिक परिचर्चा के दौरान ‘आतंकवाद से मुकाबला तथा आईईडी से मुकाबला’ विषय पर विविध परिदृश्‍यों को शामिल किया गया।

15. छात्रों में स्‍वास्‍थ्‍य संबंधी जागरूकता लाने के लिए प्रत्‍येक स्‍कूल के दो शिक्षकों को “स्‍वास्‍थ्‍य और आरोग्‍य दूत” बनाया जाएगा। स्‍वास्‍थ्‍य मंत्री डॉक्‍टर हर्षवर्धन, मानव संसाधन विकासमंत्री रमेश पोखरियाल निशंक और स्‍वास्‍थ्‍य राज्‍यमंत्री अश्‍विनी कुमार चौबे ने नई दिल्‍ली में आयुष्‍मान भारत के तहत स्‍कूल में “स्‍वास्‍थ्‍य और आरोग्‍य दूत कार्यक्रम” की शुरूआत की। प्रारंभ में इसे 200 जिलों में शुरू किया जाएगा।

16. केन्‍द्रीय गृहमंत्री अमित शाह नई दिल्‍ली में बिम्‍सटेक देशों के लिए नशीले पदार्थों की तस्‍करी पर नियंत्रण के विषय पर एक सम्‍मेलन का उद्घाटन करेंगे। इसका आयोजन नारकोटिक्‍स नियंत्रण ब्‍यूरो द्वारा किया जा रहा है। सम्‍मेलन में बिम्सटेक के सदस्‍य देश नशीले पदार्थों की चुनौतियों पर विचार-विमर्श करेंगे। बिम्‍सटेक एक क्षेत्रीय संगठन है, जिसके सात सदस्‍य देश हैं, इनमें भारत के अलावा बंगलादेश, भूटान, म्‍यांमा, नेपाल, श्रीलंका और थाईलैण्‍ड शामिल हैं।

17. एयरोस्पेस फर्म अनंत टेक्नोलॉजीज (एटीएल), हैदराबाद ने भारत में 6 विदेशी स्वामित्व वाले उपग्रहों के निर्माण के लिए एक समझौते पर हस्ताक्षर किए हैं। यह पहली बार है जब कोई निजी फर्म वैश्विक ग्राहकों के लिए उपग्रह बना रही है। फर्म जल्द ही बेंगलुरु में एक उपग्रह बनाने की सुविधा खोलेगी। अनंत टेक्नोलॉजीज स्वीडन और फ्रांस में ग्राहकों के लिए 50 किलो और 250 किलोग्राम वजन के विदेशी स्वामित्व वाले उपग्रह का निर्माण करेगा और लगभग 30% कम लागत वाले उपग्रहों को एकीकृत करेगा।

Click Here to download PDF