जयपुर मेट्रो के लिए फिर मंदिरों पर कहर, हटाए 2 मंदिर

जयपुर। जयपुर के परकोटे क्षेत्र में मेट्रो कार्य में बाधक बताकर 2 धार्मिक स्थलों को शिफ्ट किया है। जिला प्रशासन जयपुर ने भारी पुलिस बल की मौजूदगी में बड़ी चौपड़ और माणकचौक थाने के पास मौजूद भगवान गणेश जी, शिव परिवार, मां पार्वती और हनुमान जी के मंदिर की प्रतिमाओं को हटाया है। इन प्रतिमाओं को दूसरी जगह शिफ्ट किया जाएगा। फिर मंदिर ढांचे को हटा दिया गया। इस दौरान धरोहर बचाओ समिति व दूसरे संगठनों ने विरोध दर्ज करवाया, लेकिन पुलिस उन्हें वहां से ले गई। उधर, पहले भी चांदपोल से छोटी चौपड़ से हटाए और तोड़े गए मंदिरों के विरोध में आरएसएस और हिन्दुवादी संगठनों की भाजपा सरकार से ठन गई थी। तब संघ ने जयपुर बंद भी करवाया और संघ के दिशा निर्देश पर बनी एक मंदिर बचाओ कमेटी से सरकार का समझौता भी हुआ, जिसमें मंदिर नहीं हटाए जाने और तोड़े गए मंदिरों को फिर से वहीं स्थापित करने की सहमति बनी थी, लेकिन आज बुधवार को फिर से मंदिर पर प्रशासन का कहर टूट पड़ा। ना तो संघ और ना ही संघ की कमेटी मंदिर बचाने के लिए पहुंची। कार्यकर्ताओं और जयपुरवासियों में इस बात को लेकर गुस्सा है कि सहमति के बाद भी मंदिर क्यों हटाए जा रहे हैं। लोगों ने स्थानीय विधायकों के खिलाफ नारेबाजी भी की।

http://www.janprahari.com/jaipur-metro-havoc-on-the-temples-four-deleted-temple/

One clap, two clap, three clap, forty?

By clapping more or less, you can signal to us which stories really stand out.