सावन – मिलन-विरह

(मिलन)

सखी, हँसी ठट्टा छोर

रात बीती, आई भोर

होके एक ज़मीन-आसमान

आज खेरे होरी

उड़ेरे बदरी

भर भर गगरी

भीगे धरा की धानी चुनरी

ना छोरी गौरी की

हरे पीरे पेर पतरो वाली चोली

खूब भिगो री

घुंघरू वारी घघरी

सखी री, सावन आयो री

बिजरी चमके

जियारा धरके

भिगो अंग अंग

चडयो बदरा के रंग

खूब नाची मैं बैरी के संग

भूल के लोक-लाज ढंग

फूटी काची गगरिया री

सखी री, सावन आयो री

मोर नाँचे

कोयल गाये

कहार छेड़े मल्हार

नदियाँ बहे किनारे के पार

बनी धरती दुल्हन

धान की ओढ़े चुनर

डार डार, पड़ गयो झूले

पी के बाँहों मो तो सुध-बुध भूले,

तन मन इतराये, ये बावरी

सखी री, सावन आयो री

(विरह)

फुहार की पवन

कारजा मा लगाये री सखी, अगन

म्हारो जी ना लागे, बिन पी के संग

निगोड़ी पुरवाई किवडियाँ जो खोले

लगत बैरी बलम आवे होले होले

म्हारो जिगर घणौ ज़ोर ज़ोर डोले

काटे ना कटे, यों ज़ुल्मी सावन

तीज के रंगीले झूले

रास नी आते, तेरे बिन

पूनम के चाँद की राते

कटती तारे गिन गिन

दीये की बाती

सखी री, लगे जलती सी नागिन

काटे ना कटे, यों ज़ुल्मी सावन

हरजाई नींद ना चुरावे

आजा रे, ण्यूँ ना सतावे

सपनो मे काहे, दरस दिखावे

री सखी नी, बैरी बिन कछु ना भावे

ननद के बीरा, तुझे यो पगली बुलावे

काटे ना कटे, यों ज़ुल्मी सावन

सखी- friend (female friends)

ठट्टा – banter

छोर – छोड

भोर – dawn

होरी – Holi festival

उड़ेरे बदरी – downpour

गगरी – Pitcher, earthen pot

धरा – Earth

धानी – plant green

चुनरी – Indian scarce

छोरी – छोड़ी (not girl)

गौरी – girl

हरे पीरे पेर पतरो – green yellow top of plants and leaves pattern

खूब भिगो री – drenched

घुंघरू वारी घघरी – skirt with

सावन – monsoon month (rainy season)

बिजरी – lightening

जियारा धरके – pulsating heart

चडयो बदरा के रंग – dyed in shades of cloud

बैरी के संग – with beloved

लोक-लाज – worldly

काची गगरिया – fragile/unburnt earthen

कहार – waterman

मल्हार – melody, song

किनारे के पार – overflowing

डार डार – Stem, डाल डाल

पी के बाँहों – arms of beloved

मो तो – me

सुध-बुध – Consciousness (transcendental state)

तन मन – mind and body

इतराये –

बावरी – mad in love

फुहार – rain showers

कारजा – heart

अगन – fire

म्हारो जी – my mind

पुरवाई – easterly wind

बैरी बलम – husband

होले होले – slow gait

म्हारो जिगर – my heart (though literal meaning in liver)

घणौ ज़ोर ज़ोर डोले – fast pulse

तीज – Swing festival (third day in Savan month)

रास नी आते – not cherished

पूनम के चाँद की राते – full moon nights

दीये की बाती – wick of lamp

नागिन – snake (female)

हरजाई – used for beloved or husband

दरस – glimpse

ननद के बीरा – husband (brother of sister-in-law)