निदा फ़ाज़ली: शहर-ए-उर्दू में एक कुटिया
Preyas Hathi
185

निदा फ़ाज़ली साहब के जन्मदिन पर इससे खूबसूरत और कुछ नहीं हो सकता। प्रेयस जी को इस सुंदर चित्रण के लिए बधाई।