प्रीत है तु मन मीत है, राधे तुम ही से मेरा संगीत है,
प्रेम रोग जो है सभी, माने हर कोई विभिन्न है,
राधे राधे मैं कन्हा तेरा जो तुमसे ही चलूँ,
नीति है जो निभानी है, पल भरके संग आनंद ले चलूँ ।
-विरल पंचाल

Hope you like it. Please don’t forget to clap.

Keep muskurana


बिन बुलाये मैं सपनों में खोई रहती हूँ,
संसार के संसारिक रिवाज़ पिरोई रहती हूँ,
किस कस्मकश में मुजे रहना है मैं ही जानती हूँ,
हकीकत से परे कुछ नहीं ये मैं मानतीं हूँ;

बिन बुलाये मैं सपनों में सोती रहती हूँ,
आधार परिवारका मैं बनाए रखती हूँ,
शिक्षित शायद नहीं पर मैं हिसाब सबका रखती हूँ,
घर राशन कब अधूरा होगा ये पहचान रखती हूँ;

बिन बुलाये मैं सपनों में देखा करती हूँ,
आसमान के तारे के जेसे चार दीवार में चमकती रहती हूँ,
रसोई-आंगन सब चमकाए रखती हूँ,
दाग सीने पे लेके घर की मर्यादा बरकरार रखती हूँ;

बिन बुलाये मैं सपनों में सुना करती हूँ,
मैं बहुत नाज़ुक पर अन्नपूर्णा का भार उठाती हूँ,
ताने-झांखे में सुनके मनन से सहा करती हूं,
हर सुबह-शाम में बस यूँ ही सेवा करती हूँ;

बिन बुलाये मैं सपनों में आज़ाद उड़ा करती हूँ,
फिरभी हकीकत से मैं नाराज़ नहीं,
ईमानदारी से पृभुभाक्ती करती हूँ,
मेरा जीवन जीव-मात्र को अर्पण करती हूँ।

जी ना पाती मैं ख्वहिशोंको अपनी अक्सर, शायद इसीलिए,
बिन बुलाये मैं सपनोंको यूँ ही सपनों में जीया करती हूँ ।

-विरल…


Image for post
Image for post

मैं हिंदू हूँ इसलिये इस्लाम की ईज्जत करता हूँ,

वेश जो भी हो, साथ कोई भी हो, एकता में भरोसा रखता हूँ,

समर्पित हूँ इंसानियत पे, खुदा-कृष्ण एक है,

दुआ मैं दोनोंसे मांगता हूँ।

- विरल पंचाल

If love this words please don’t forget to clap . Spread your love. Do share comments. Thank you.

About

Viral Panchal

poet & storyteller | keepમુસ્કુરાના

Get the Medium app

A button that says 'Download on the App Store', and if clicked it will lead you to the iOS App store
A button that says 'Get it on, Google Play', and if clicked it will lead you to the Google Play store