JNU आरोपियों की तलाश तेज, यूपी-बिहार समेत कई राज्यों में छापे

नई दिल्ली। दिल्ली पुलिस जेएनयू में देशद्रोही नारे लगाने वाले छात्रों की तलाश में जुटी है। जानकारी के मुताबिक पुलिस की ओर से उत्तर प्रदेश, बिहार और श्रीनगर में छापेमारी की जा रही है। पुलिस ने दिल्ली और जम्मू के भी कई इलाकों में देशद्रोही नारे लगाने के आरोपी उमर खालिद समेत पांच छात्रों की तलाश में छापेमारी की। वहीं गृह मंत्रालय के सूत्रों ने बताया कि कन्हैया को लेकर अब तक कोई फैसला नहीं लिया गया है। लेकिन, सिर्फ नारे लगाना ही देशद्रोह के दायरे में नहीं आता।

इन छात्रों की हो रही तलाश- जानकारी के मुताबिक जेएनयू में नारेबाजी के बाद फरार उमर खालिद, आशुतोष कुमार, अनिरबन भट्टाचार्य रामा नागा और अनंत प्रकाश की तलाश में छापेमारी हो रही है। सूत्रों के मुताबिक गृह मंत्रालय कन्हैया को लेकर अभी तक किसी भी निष्कर्ष पर नहीं पहुंचा है। मंत्रालय का मानना है कि नारे लगाने के अलावा भी कई हरकतें देशद्रोह के दायरे में आती है। जिसकी जांच अभी की जा रही है। कन्हैया को नहीं मिल रही क्लीन चिट- वहीं टीवी रिपोर्ट्स के मुताबिक दिल्ली पुलिस की पूछताछ में कन्हैया ने कहा है कि उसने देशविरोधी नारे नहीं लगाए थे। इधर दिल्ली पुलिस कमिश्नर बीएस बस्सी ने इन खबरों को गलत बताया कि कन्हैया ने देश विरोधी नारे नहीं लगाए थे। उन्होंने कहा कि पुलिस की ओर से कन्हैया को क्लीन चिट नहीं दी जा रही है। कमिश्नर ने कहा कि पुलिस ने ठोस आधार पर ही कन्हैया का रिमांड कोर्ट में मांगा था, कोर्ट ने वह रिमांड दिया भी। पश्चिम बंगाल सरकार से मांगी रिपोर्ट- इस बीच गृह मंत्रालय ने कोलकाता की यादवपुर यूनिवर्सिटी में भी आतंकी अफजल गुरु और इशरत जहां के समर्थन में नारेबाजी किए जाने को लेकर पश्चिम बंगाल सरकार से रिपोर्ट मांगी है। गौरतलब है कि जेएनयू में भारत विरोधी नारेबाजी के बाद यादवपुर यूनिवर्सिटी में भी अफजल गुरु के समर्थन में नारेबाजी किए जाने की घटना सामने आई थी।

Hindi news (हिन्दी नयूज) source — Dailyhunt